Saturday, July 13, 2024
होमराजनीतिक्या यूपी में कांग्रेस के कारण में दलित और ब्राम्हण वोटों का...

क्या यूपी में कांग्रेस के कारण में दलित और ब्राम्हण वोटों का झुकाव और अखिलेश के कारण पिछडो़ं का झुकाव इंडिया गठबंधन की तरफ बढा है ?

इंडिया गठबंधन यूपी 43 सीट जीत कर आया इसका सबसे बडा़ कारण दोनों दलों के टिकट वितरण को मुख्य कारण माना जा रहा है अखिलेश ने जिस तरह से टिकट वितरण में यादव और मुस्लिम वोटों के उम्मीदवारों के प्रेम पर जिस तरह से ब्रेक लगाया और जिन 15 दलित वर्ग के 15 दलितों को टिकट देकर दिया उसमें भी 2 दलित उम्मीदवार सामान्य सीट पर ( फैजाबाद और मेरठ ) की सीट अवधेश प्रसाद और सुनीता वर्मा को टिकट देकर उपकृत किया वह वास्तव में उन्ही के बस की बात थी।दूसरे कांग्रेस से दलितों को कोई आपत्ति नही थी क्योंकि पहले दलित कांग्रेस का ही कोर वोट बैंक था । दूसरे कांग्रेस का कोर वोटर ब्राम्हण भी था । जिन 17 सीटों पर कांग्रेस ने अपने प्रत्याशी उतारे उनमें 8 पर मायावती की पार्टी को भारी नुकसान हुआ है । जितना नुकसान भाजपा के लाभार्थी योजनाओं से मायावती को अपने वोटरों से नुकसान नहीं हुआ था उससे भी काफी ज्यादा नुकसान मायावती को कांग्रेस और सपा के गठबंधन से हुआ है । तीन दशक पहले जैसा मायावती के उत्थान से कांग्रेस को हुआ था वैसा ही नुक्सान इस बार सपा और कांग्रेस के गठबंधन से हुआ है मायावती के भाजपा से मिलने की बात ने भी मायावती को नुक्सान पहुंचाया है मुस्लिमों ने पहले ही साथ छोड़ दिया था अब उनके अपने वोटरों ने भी साथ छोड़ने के संकेत दिये हैं मायावती को पिछले चुनाव से भी लगभग 10 प्रतिशत कम वोट मिले हैं वहीं कांग्रेस को अखिलेश के साथ से वोटों के प्रतिशत में भी भारी उछाल आया है। जिसमें मुस्लिमों के साथ दलितों और ब्राम्हण वोटरों का बडा़ योगदान भी माना जा रहा है। वहीं अखिलेश यादव वाला करिश्मा तेजस्वी यादव बिहार में नहीं कर सके और मुकेश सैनी को प्रचार में लेकर घूमते रहे। अग उन्होने भी अपने साथ कांग्रेस के नेताओं के साथ संयुक्त रैलियां की होती तो शायद इंडिया गठबंधन वहां भी 20 सीट पा जाती । मायावती सम्भवतः आगे यूपी में आने वाले लोकसभा चुनाव में भाजपा से हाथ मिला सकती हैं लेकिन भाजपा उन्हे कितनी सीट देगी और क्या अब उनके वोटर उनके कहने पर क्या पहले की तरह अपना वोट शिफ्ट करा सकेंगी । इसके अलावा नगीना से जीते चंद्रशेखर आजाद ने भी मायावती के वोटरों पर अपना काफी अंश तक प्रभाव जमा लिया है ये यक्ष प्रश्न है।?- सम्पादकीय-News51.in

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments