Monday, March 4, 2024
होमआर्थिकक्या खुशी के लिए पैसा या पद का रूतबा जरूरी है?

क्या खुशी के लिए पैसा या पद का रूतबा जरूरी है?

🕉
3 बुरे समाचारों ने बहुतों को सोचने पर विवश कर दिया !

  1. 12 हजार करोड़ ₹ की रेमण्ड कम्पनी का मालिक अपने पुत्र की उपेक्षा के कारण किराये के घर में रह रहा है।
  2. अरब पति महिला मुम्बई के पॉश क्षेत्र के अपने करोड़ों रुपये के फ्लैट में पूरी तरह गलकर कंकाल बन गयी और विदेश में बहुत बड़ी नौकरी करने वाले करोड़पति पुत्र को पता ही नहीं चला कि माँ कब मर गयी ?
  3. सपने साकार कर आई. ए. एस. का पद पाये बक्सर के जिलाधिकारी ने तनाव के कारण आत्महत्या कर ली।

ये 3 घटनायें बताती हैं कि जीवन में पद, धन और प्रतिष्ठा ये सब कुछ काम का नहीं है, यदि आपके जीवन में प्रसन्नता, सन्तुष्टी और अपने नहीं हैं।

नहीं तो एक जिलाधिकारी को क्या आवश्यकता थी जो उसे आत्महत्या करना पड़ा।

प्रसन्नता और सुख रुपयों से नहीं मिलता है, अपनों से मिलता है।

इसलिए धन ही सब कुछ नहीं होता है।
रुपया बहुत कुछ है, लेकिन सब कुछ नहीं है।

जीवन आनन्द के लिए है। चाहे जो हो, बस मुस्कुराते रहो !

यदि आप चिन्तित हो, तो स्वयं को थोड़ा आराम दो। कुछ मन पसन्द खाओ, पिओ।

ये अंग्रेजी वर्ण हमें सिखाते हैं :-

A, B, C.
Avoid Boring Company​.
मायूस संगत से दूर रहो।

D, E, F.
Dont Entertain Fools​.
मूर्खों पर समय व्यर्थ नष्ट मत करो।

G, H, I.
Go For High Ideas​.
ऊँचे विचार रखो​।

J, K, L, M.
Just Keep A Friend Like Me​
मेरे जैसा मित्र रखो !

N, O, P.
Never Overlook The Poor and Suffering​.
गरीबों व पीड़ितों को कभी अनदेखा मत करो।

Q, R, S.
Quit Reacting To Silly Tales​.
मूर्खों को प्रतिक्रिया मत दो​।

T, U, V.
Tune your self For your Victory​.
स्वयं की जीत सुनिश्चित करो।

W, X, Y, Z.
We Xpect You To Zoom Ahead In Life​
हम आपसे जीवन में आगे देखने की आशा करते हैं।

यदि आपने चाँद को देखा, तो आपने ईश्वर की सुन्दरता देखी !

यदि आपने सूर्य को देखा, तो आपने ईश्वर का बल देखा !

और यदि आपने दर्पण में देखा तो आपने ईश्वर की बहुत सुन्दर रचना देखी !

इसलिए स्वयं पर विश्वास रखो।

जीवन में हमारा उद्देश्य होना चाहिए :-

​9, 8, 7, 6, 5, 4, 3, 2, 1, 0​

9 – गिलास पानी।
8 – घण्टे नींद।
7 – यात्रायें परिवार के साथ।
6 – अंकों की आय।
5 – दिन सप्ताह में काम।
4 – पहिया वाहन।
3 – बेडरूम वाला फ्लैट।
2 – अच्छे बच्चे।
1 – जीवन साथी।
0 – चिन्ता !

यह केवल मैसेज नहीं, एक सीख है। लेखिका -माया श्री वास्तव, लखन ऊ

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments

%d bloggers like this: