Sunday, May 26, 2024
होमराजनीतिविपक्षी दलों की बैठक- केजरीवाल ने पहले अध्यादेश पर कांग्रेस का रूख...

विपक्षी दलों की बैठक- केजरीवाल ने पहले अध्यादेश पर कांग्रेस का रूख जानना चाहा तो उमर अब्दुल्ला ने जम्मू कश्मीर में 370 हटाए जाने पर केजरीवाल के रूख पर ताना मारा

कल पटना में विपक्षी दलों की बैठक सम्पन्न हुई ।बैठक के एक दिन पहले ही केजरीवाल अपने सहयोगियों के साथ और ममता बनर्जी एक दिन पहले ही पटना पहुंच कर लालू यादव और नितीश कुमार से मुलाकात कर अपना-अपना एजेंडा पहले रखने की जिद की।ममता बनर्जी पश्चिम बंगाल में कांग्रेस और वामदलों का गठबंधन लोकसभा चुनाव में नहीं लड़ने देना चाहती थीं तो केजरीवाल अध्यादेश के लिए कांग्रेस के समर्थन की गारंटी चाहती थीं और इसके अलावा भी दिल्ली और पंजाब में कांग्रेस न लडे़ , वरनाउसने मध्यप्रदेश, राजस्थान में आम आदमी पार्टी को लडा़ने की न केवल बात कही बल्कि राजस्थान में रैली भी निकाल कर मुख्य मंत्री पर अमर्यादित टिप्पणी भी कर डाली।जिससे कांग्रेस की नराजगी स्वाभाविक थी और इसे केजरीवाल की ब्लैकमेलिंग मानी गयी।इसी कारण कांग्रेस ने केजरीवाल को कोई तवज्जो नहीं दी।रही -सही कसर जम्मू-कश्मीर में370 हटाए जाने का विरोध न करने के कारण क ई दिनों से खार खाये उमर अब्दुल्लाह ने केजरीवाल की खिंचाई करदी और इसका ताना भी मार दिया।कांग्रेस जो चाहती थी,उसे उमर अब्दुल्ला ने पूरा कर दिया और केजरीवाल ने भविष्य में उस बैठक में शामिल होने से इंकार कर कांग्रेस को दिल्ली , पंजाब में लड़ने का रास्ता साफ कर दिया और अब यह पक्का है कि केजरीवाल की पार्टी मध्यप्रदेश और राज स्थान के साथ छत्तीसगढ में भी लोकसभा चुनाव अवश्य लडे़गी ,हालांकि इन तीनों राज्यों में उसका कोई वजूद नहीं है ,सिवाय इसके कि कांग्रेस और भाजपा से नाराज लोगों को लडा़ कर अपनी इच्छा पूर्ण करे। इससे ज्यादा वह इन राज्यों में कुछ कर भी नहीं सकती।इस बात को अच्छी तरह समझने के बाद ही कांग्रेस ने केजरीवाल को कोई तवज्जो न देने का फैसला किया है।इसके अलावा ममता बनर्जी को भी कांग्रेस पसंद नहीं करती, क्योंकि कांग्रेस के हजारों कार्यकर्ताओं मुकदमें ममता ने कर रखा है या जेल भेजा हुआ है।कांग्रेस किसी भी सूरत में वामदल जैसे विश्वसनीय सहयोगियों की अनदेखी कांग्रेस करेगा, वह भीममता बनर्जी जैसी अविश्वसनीय नेता के झांसे में आकर । सम्पादकीय-News51.in

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments