Friday, June 14, 2024
होमअपराधफ्रांस - राफेल केस में नया मोड़, न्यायिक जांच के लिए एक...

फ्रांस – राफेल केस में नया मोड़, न्यायिक जांच के लिए एक जज की नियुक्ति

फ्रेंच पब्लिक प्रासिक्यूशन सर्विस (PPF) ने कहा है कि वह 36 राफेल विमान बेचे जाने के मामले में कथित भ्रष्टाचार और पक्षपात के आरोपों की जांच करेगी। भारत में अगले वर्ष सभी 36 राफेल फाईटर जेटस विमानों की डिलीवरी जाएगी 2016 में हुए डील को लेकर अबतक क ई विवाद उभर चुके हैं ।हालांकि मोदी सरकार ने अबतक डील में किसी तरह की गड़बड़ी के आरोपों से इनकार किया है हालांकि इस बीच फ्रांस में इस डील को लेकर इंक्वाइरी शुरू हो गई है बताया गया है कि डवो एविएशन और भारत सरकार के बीच हुई इस डील में कथित भ्रष्टाचार और पक्षपात के आरोपों की न्यायिक जांच के लिए एक जज की नियुक्ति भी हो गई है ।फ्रांस के एक इन्वेस्टीगेटिव जर्नल (पत्रिका) के मुताबिक 14 जून 2016 को जिस समझौते पर हस्ताक्षर हुए थे उस पर एक एक उच्च स्तरीय संवेदनशील जांचबैठा दी गई है ।बता दें फ्रांस के एक मीडिया पोर्टल मीडिया पार्ट ने शुक्रवार को यह खुलासा किया था कि यह आपराधिक जांच स्वतंत्र मजिस्ट्रेट द्वारा कराई जाएगी जो कि फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांसिस ओलांद के इस डील में उठाए गए कदमों पर सवालों की जांच करेगा। गौर तलब है कि जब भारत और फ्रांस के बीच राफेल जेट डील हुई थी तब फ्रांसिस ओलंद ही फ्रांस के राष्ट्रपति पद पर थे। और वर्तमान राष्ट्रपति इमैनुवल मैक्रो उस समय वित्त मंत्री थे। इस मामले में फ्रांस के वित्तीय अपराधों से जुड़ी शाखा फ्रेंच पब्लिक प्रोशिक्यूशन सर्विस ( PNF) ने कहा है कि वह 36 राफेल जेट बेचे जाने के मामले में कथित भ्रष्टाचार और पक्षपात के आरोपों की जांच करेगी।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments