Tuesday, April 23, 2024
होमराजनीतिदेर से ही मगर यूपी के बाद इंडिया गठबंधन के सभी दल...

देर से ही मगर यूपी के बाद इंडिया गठबंधन के सभी दल आगे आये ,सपा के बाद दिल्ली सहित कुछ राज्यों(पंजाब छोड़कर) में गठबंधन,एक-दो दिनों में बंगाल, 27-28 फरवरी तक महाराष्ट्र,3-4 मार्च को बिहार में और 6मार्च तक तमिलनाडु में भी गठबंधन फाईनल होने की सम्भावना

अभी तक जिस इंडिया गठबंधन की गांठें नहीं खुल रही थी वो गांठें यूपी से अखिलेश यादव और प्रियंका गांधी से फोन पर हुई बातचीत के बाद और प्रियंकागांधी द्वारा ससुराल की सीट मुरादाबाद और सलमान खुर्शीद की फर्रूखाबाद की सीट पर दावा छोड़ने के बाद।और अखिलेश यादव द्वारा वाराणसी की सीट से प्रत्याशी का नाम वापस लेने के बाद(प्रियंका के अनुरोध पर ताकि कांग्रेस फ्रंट पर रह कर इंडिया गठबंधन का फ्रंट पर रह कर भाजपा से लड़ती दिखे , कांग्रेस ने भी समझदारी दिखाते हुए मध्यप्रदेश की खजुराहो सीट भी देकर एक तरह से सपा की पुरानी बात मान ली ।इसका लाभ भी कांग्रेस को सम्भवतः मिलेगा।इस गठबंधन।के होते ही जैसे सारी गांठें इंडिया गठबंधन की खुल गयी । आम आदमी पार्टी से भी आज दोनों दलों के नेताओं की मौजूदगी में पंजाब को छोड़कर हरियाणा, गोवा, दिल्ली और गुजरात में भी समझौता हो गया। दर असल पंजाब का कांग्रेस नेतृत्व सभी सीटों पर चुनाव लड़ना चाहता था कांग्रेस नेतृत्व ने भी इसका सम्मान किया । दिल्ली की तीन सीटों चांदनी चौक, उत्तर पूर्वी और उत्तर पश्चिमी दिल्ली पर कांग्रेस और शेष चार सीटों पर आप चुनाव लडे़गी , गुजरात की दो सीटों पर भरूच और भावनगर पर तथा हरियाणा की कुरूक्षेत्र सीट आम आदमी पार्टी चुनाव लडे़गी शेष गुजरात और हरियाणा में कांग्रेस लडे़गी ।इसी प्रकार गोवा की दोनों सीटों पर और चण्डीगढ की एकमात्र सीट पर कांग्रेस चुनाव लडे़गी। राहुल गांधी से उद्धव ठाकरे से फोन पर हुई एक घंटे की बातचीत के बाद महाराष्ट्र की सीटों पर भी तकरीबन सीटों का बंटवारा फाइनल है बस मुम्ब।ई की सीटों रामटेक, हिंगोली,जालना, उत्तर पश्चिम मुम्ब ई,साऊथ सेंट्रल मुम्ब ई, शिरडी, भिवंडी, वर्धा पर फंसा है । वैसे अभी तक शिवसेना उद्धव गुट 15, कांग्रेस 14 , शरद पवार की पार्टी की 9 सीटों पर तथा दो अन्य दलों की एक- एक सीट फाईनल।है बची विवादास्पद 8 सीटों पर भी एक दो दिन में इसपर भी मामला तयं हो जायेगा 27-28 फरवरी को महाअघाडी़ की सीटों पर भी सहमति हो जाएगी । कारण साफ है कोई भी दल अब इंडिया गठबंधन में दरार के लिए स्वयंम पर ब्लेम नहीं लगने देना चाहता इसी कारण से पहले ममता बनर्जी जिन्होने दो सीट बंगाल में देने आफर के बाद बातचीत बंद कर दी थीं राहुल गांधी से बातचीत के बाद पांच सीट देने को तैयार हो ग ई हैं आशा है शीघ्र ही 6 सीटें पश्चिम बंगाल में कांग्रेस को देने के लिए ममता मान जाएंगी बदले में मेघालय की एक सीट और आसाम की दो सीट कांग्रेस ममताबनर्जी को देदेंगी । पश्चिम बंगाल की वे 6 सीटें जो कांग्रेस ने मांगे हैं वे हैं माल्दा, मुर्शिदाबाद के अलावा जंगी पुर, बहरामपुर, रायपुर, बशीरहट हैं 3 -4मार्च को बिहार में भी गठबंधन होजाएगा वैसे बिहार , तमिल नाडु में बेहद आसानी से गठबंधन हो जाएगा क्योंकि इन दोनो राज्यों में कांग्रेस का साथी दलों से अच्छी ट्यूनिंग है बाकी उडी़सा और आंध्र प्रदेश में गठबंधन पर कांग्रेस साथी दलों की तलाश में है। सम्पादकीय-News51.in

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments