Friday, June 14, 2024
होमराजनीतिदूसरे चरण का मतदान सम्पन्न- तेरह राज्यों की 89 सीटों पर हुआ...

दूसरे चरण का मतदान सम्पन्न- तेरह राज्यों की 89 सीटों पर हुआ मतदान,

आसाम 5 सीट, बिहार 5 सीट, छत्तीसगढ 3 सीट, जम्मू-कश्मीर 1, कर्नाटक 14, केरल 20 , मध्यप्रदेश 6, महाराष्ट्र 8, राजस्थान 13 , त्रिपुरा 1, उत्तर प्रदेश 8, पश्चिम बंगाल 3 हैं यूपी की अमरोहा , मेरठ, गाजिया बाद, मथुरा , बागपत, गौतम बुद्ध नगर , अलीगढ ,बुलंद शहर । इसके अलावा बिहार की जिन पांच सीटों पर दूसरे चरण में मतदान होना है वे हैं पूर्णियां , कटिहार, भागल पुर बांका , किशनगंज है । जिन महत्व पूर्ण हस्तिओं की किस्मत दांव पर है उसमें महत्वपूर्ण हैं मथुरा से हेमा मालिनी , वायनाड से राहुल गांधी , पूर्णियां से पप्पू यादव , कटिहार , किशन गंज से तारिक अनवर और जावेद , मेरठ से राम का पात्र रामायण सिरियल में बने अरूण गोविल , कर्नाटक के उप मुख्यमंत्री डी के शिवकुमार के भाई डी के सुरेश, कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री एच डी कुमार स्वामी , छत्तीसगढ के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेश बघेल , कांग्रेस महा सचिव केसी वेणुगोपाल , भाजपा के तेजस्वी सूर्या प्रमुख हैं इसबार 89 सीटों पर औसत वोटिंग 63.5 प्रतिशत हुई है यूपी और बिहार में लगभग 53 प्रतिशत , राजस्थान में लगभग 59 प्रतिशत , त्रिपुरा लगभग 76 प्रतिशत, केरल लगभग 64 प्रतिशत , छत्तीसगढ और पश्चिम बंगाल में लगभग 72 प्रतिशत, मध्यप्रदेश में लगभग 54 प्रतिशत, महाराष्ट्र में लगभग 53 प्रतिशत , कर्नाटक लगभग 64 प्रतिशत, जम्मू कश्मीर में लगभग67 प्रतिशत , मणिपुर में लगभग 76 प्रतिशत , असम में लगभग 71 प्रतिशत मतदान हुआ ।यूपी की जिन आठ सीटों पर चुनाव हुआ है पिछले लोक सभा चुनाव 2019 की तुलना में इस बार काफी कम प्रतिशत मतदान हुआ है। अमरोहा में पिछली बार 71.5 की तुलना में इसबार 64.54 प्रतिशत , मेरठ में 64.29 की तुलना में इस बार 59.3 प्रतिशत , बागपत में 64.68 की तुलना में इस बार 54.63 प्रतिशत , गाजियाबाद 55.89 की तुलना में इसबार 49.80 प्रतिशत , गौतम बुद्ध नगर में 60.49 की तुलना में 52.46 प्रतिशत , बुलंदशहर 62.92 की तुलना में इसबार 56.41 प्रतिशत , अलीगढ 61.68 की तुलना में इसबार 56.62 प्रतिशत तथा मथुरा में पिछली बार 61.08 की तुलना में इस बार मात्र 49.29 प्रतिशत मतदान हुआ यही हाल बिहार की दूसरे चरण की 5 सीटों के मतदान का भी यही हाल रहा ।सम्भवतः भयंकर गर्मी और इस बार मतदाताओं की उदासीनता के कारण मतदान काफी कम रहा । सम्पादकीय-News51.in

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments