Sunday, June 23, 2024
होमराजनीतिक्या उपचुनाव चुनाव में हार के बाद ममता बनर्जी भाजपा के साथ...

क्या उपचुनाव चुनाव में हार के बाद ममता बनर्जी भाजपा के साथ होंगी लोकसभा चुनाव बाद

विधान सभा के उपचुनाव बाद पश्चिम बंगा ल में हुई हार से बौखलाई ममता ने लोकसभा चुनाव में किसी के साथ गठबंधन न करने का एलान बौखलाहट में नहीं बल्कि उनकी एक सोची समझी रणनीति का हिस्सा है।ईडी और सीबीआई से परेशान ममता बनर्जी पहले तो केंद्र सरकार की मीटिंग में ही नहीं जाती थी,उनके विधायकों और सासदों पर पडे़ सीबीआई और ईडी के छापों से परेशान ममता केंद्र की बैठकों में दिल्ली दो बार गयी और प्रधान मंत्री मोदी जी से मिली ।आप अगर गौर करेंगे तो पाएंगे कि ममता बनर्जी भाजपा के बजाय कांग्रेस का ज्यादा नुक्सान करने में लगी हैं जहां भी कांग्रेस के जरा भी जीतने की गुंजाइश होती है वहां अपने पार्टी को भी अवश्य खडा़ कर देती हैं आप गोवा ,त्रिपुरा का चुनाव देख लें । इतने विरोध के बाद। त्रिपुरा में कांग्रेस और वाम मोर्चा गठबंधन को 34 प्रतिशत वोट मिले और तो और कांग्रेस को 3 सीट भी मिली थी।लेकिन सबसे तगडी़ चोट बंगाल के मुर्शिदाबाद की समीर दिघे सीट पर ममता के सम्बंधी की हार। वहां कांग्रेस प्रत्याशी ने लगभग 23000 वोटों से जीत दर्ज की।इसमें वामदलों और अधीर रंजन की भूमिका भी महत्वपूर्ण रही।शायद अब ममता बनर्जी के लिए भाजपा से दूर रहना मुश्किल हो गया है।वह पहले भी अटल बिहारी वाजपेयी जी के कार्यकाल में एनडीए के साथ सरकार में रह चुकी हैं। सम्पादकीय। -News51.in

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments