Sunday, May 26, 2024
होमखेल जगतआईपीएल 2023-राजस्थान ने हैदरा बाद,पंजाब ने कोलकाता को,बंगलेरू ने मुम्ब ई को,लखन...

आईपीएल 2023-राजस्थान ने हैदरा बाद,पंजाब ने कोलकाता को,बंगलेरू ने मुम्ब ई को,लखन ऊ ने दिल्ली को और चेन्न ई ने लखन ऊ को हराया।

आईपीएल का रोमांच अब एक बार फिर लोगों के सर पर चढ कर बोलने लगा है । टीमों के समर्थक भी अपनी – अपनी टीमों को जीताने और उनका हौंसला अफजाई में जुट गये हैं शुरूआत में सबसे ज्यादा समर्थक मुम्ब ई ,चेन्न ई और बंगलुरू के समर्थक पूरे देश में सबसे ज्यादा थे लेकिन अब तो पंजाब, दिल्ली, लखन ऊ और रगुजरात के समर्थकों की संख्या मेंभारी इजाफा हुआ है।लेकिन यह समर्थन अपने स्टार खिलाडि़यों के कारण ही बढा है वैसे भी हमारे देश में हीनहीं, सभी देशों में रही है इसीलिए तो स्टार खिलाडि़यों और अन्य के बीच में अंतर बहुत बडा़ होता है।दर्शक भी अपने स्टार खिलाडि़यों के लिए ही पैसा लगाता है। उदाहरण के लिए मुम्ब ई में सचिन तेंदुलकर चेन्न ई में धोनी के कारण और बंगलेरू में विराट कोहली के प्रति लोगों की दिवानगी किसी से छिपी नहीं है और अब गुजरात में हार्दिक पांड्या और दिल्ली के लिए ऋषभ पंत की दीवानगी नये लड़कों की वजह से बढी है ।यही स्टार स्टेटस कहलाता है जोअन्य खिलाडियों से इन्हे अलग करता है ।खैर अब जहां अभीतक जितने मैच हुए हैं उनमें पहले मैच में गुजरात ने चेन्न ई को,आरसीबी ने मुम्ब ई को, लखन ऊ ने दिल्ली को,राजस्थान ने हैदराबाद को,कोलकाता को पंजाब ने और अपने दूसरे मैच में चेन्न ई ने लखन ऊ जैसी मजबूत टीम को हरा दिया। अब जरा सभी टीमों केखेल की संक्षेप में बात कर लें ,पहले मैच में गुजरात और चेन्न ई के मैच में चेन्न ई की बल्लेबाजी ऋतुराज गायकवाड को छोड़कर फ्लाप रही जो दूसरे दिल्ली वाले मैच में ऋतुराज के साथ डेवेन कान्वे के साथ-साथ शिवम दूबे, मोईन अली ,अंबाटी रायडू नेभी अपने हाथ खोले।अलबत्ता बेन स्टोक्स और रवींद्र जडेजा और हेंगरेकर अभी कायदे से मौका ही बल्लेबाजी में करने को नही मिला। लेकिन मुख्य परेशानी पहले मैच की बालिंग थी तो पहले मैच में 50 से अधिक रन खाने वाले नये खिलाडी़ तुषार देशपांडे ने दूसरे मैच में अपनी तेजी और सटीक लाईन से बालिंग कर धोनी की चिंता कम की।साथ ही मोईन अली ने भी अपनी आलराउंड खेल से अपनी उपयोगिता सिद्ध् कर दी कि उन्हे इंग्लैंड का बडा़ खिलाडी़ क्यूं कहा जाता है ।वहीं लखन ऊ की टीम ने अपने दोनों मैचों में बहुत ही अच्छा खेले लेकिन दूसरा भारी रन केदबाव में हार गयेमैच। लेकिन काईल मेयर्स, निकोलस पूरन ,मार्क वुड,दीपक हुड्डा,आयुष बदानी स्टोईनिस जैसे बल्लेबाज हैं लेकिन कप्तान के एल राहुल का आफ फार्म चिंता का विषय बना हुआ है।आरसीबी की टीम ने जिस तरह से मुम्ब ई की टीम को हर क्षेत्र में पीछे छोड़ते हुए बुरी तरह से हराया है उससे आरसीबी का हौंसला आसमान पर है कप्तान फाफ डुप्लेसिस,विराट कोहली प्रचंड फार्म में दिख रहे हैं साथ ही ग्लैन मैक्सवेल, दिनेश कार्तिक जैसे खिलाडी़ हैं बालिंग में मो. सिराज, हर्षल पटेल, कर्ण शर्मा , माईकेल ब्रेसवेल, आकाशदीप जैसे खिलाडी़ हैं ।आरसीबी की कमजोर कडी़ उनकी बालिंग है।रही मुम्ब ई की बात तो,रोहित शर्मा, ईशान किशन, कैमरन ग्रीन, सूर्य कुमार ,टिम डेविड और तिलक वर्मा जैसे बल्लेबाज टीम मे हैं लेकिन पहले मैच में तिलकवर्मा को छोड़ पहले मैच में कोई बल्लेबाज नहीं चला ।लेकिन सबसे बडी़ समस्या मुम्ब ई की बालिंग में है ।जोफ्रा आर्चर, कैमरन ग्रीन के अलावा पुराने स्पिनर पियूष चावला और जेसन होल्डर हैं पहले मैच में डुप्लेसीस और कोहली ने मुम्ब ई के गेंदबाजों की जमकर पिटाई की थी।एक अन्य मैच में राजस्थान ने हैदराबाद को हराया। हैदराबाद के अभिषेक शर्मा और राहुल त्रिपाठी और हैरी ब्रुक के न चलने का दबाव कप्तान मयंक पर आगया था और हैदराबाद 72 रनों से हार गयी थी।राजस्थान की टीम में जोंस बटलर ,यशस्वी जायसवाल,संजू सैमसन, देवदत्त पडिकल और हैटमायर के रहते काफी मजबूत दिख रही है और बालिंग में यजुवेंद्र चहल, टेंट्र बोल्ट, अश्विन के रहते काफी अच्छी दिख रही है वहीं हैदराबाद की बालिंग भुवनेश्वर कुमार उमरान मलिक, टी नटराजन और आदिल रशीद के रहते मजबूत है लेकिन बल्लेबाजी कमजोर पक्ष है। रही पंजाब की टीम में अर्शदीप सिंह, सैम कुर्रन,नाथन एलिस, सिकदर रजा और राहुल चाहर के रहते काफी अच्छी है और बल्लेबाजी में भानुका राजपक्षे,शिखर धवन, सिकदर रजा और जितेश शर्मा के साथ सैम कुर्रन के कारण बल्ले बाजी भी मजबूत दिख रही है वहीं कोलकाता नाईट राइडर का दुर्भाग्य से वर्षा के कारण डक वर्थ लुइस नियम से हार गयी वर्ना बल्लेबाजी में मनदीप सिंह ,वेंकेटेश अय्यर ,नितिश राणा, रिंकू सिंह आंद्रे रसेल के साथ सुनील नरेन जैसे बल्लेबाज हैं और बालिंग में सुनील नरेन,आंद्रे रसेल,उमेश यादव और टिम साउथी केसाथ वरूण चक्रवर्ती हैं जो सभी अच्छे हैं ।अभी तो शुरूवाती दौर हैजब सभी टीमें 5-5 मैच खेल चुके होंगे तभी टीमों की मजबूत और कमजोर पक्ष का सही आकलन हो पायेगा। जहांतक गुजरात की टीम की बात है वह बालिंग और बैटिंग दोनों में अच्छी दिख रही है लेकिन अभी असल परीक्षा दिल्ली के विरूद्ध होना बाकी है तभी कुछ अंदाज लगाया जा सकता है। सम्पादकीय,-News 51.in

मो.० सिराज , हर्षल पटेल,

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments